Breaking news
  • अगस्त क्रान्ति की वर्षगांठ पर गोष्ठी का आयोजन
  • हरीश रावत कांग्रेस शासन के सभी घोटालों का ख़ुलासा कर पश्चाताप करें : भसीन
  • वार्ड नम्बर 10 शिवपुरी में मिला कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति
  • बोर्ड परीक्षाओं में बेहतर प्रदर्शन करने पर डिम्पल गोयल सम्मानित
  • भाजयुमो ने सादगी से मनाया प्रदेश अध्यक्ष का जन्मदिन
  • विशेषज्ञों ने किया कोविड के कम्युनिटी ट्रांसमिशन पर विचार-विमर्श
  • सरकारी भूमि से तत्काल अतिक्रमण हटायें : जिलाधिकारी
  • कोरोना महामारी को देखते हुए विशेष अहतियात के साथ मनाया जाय स्वतन्त्रता दिवस : जिलाधिकारी
Todays Date
10 August 2020

उत्तराखंड मे धूमधाम से मनाया गया अखिलेश यादव का जन्मदिन

फोटोः डीडी 9

कैप्शन : केक काटकर अखिलेश यादव को जन्मदिन की बधाई देते सपा कार्यकर्ता।

उत्तराखंड मे धूमधाम से मनाया गया अखिलेश यादव का जन्मदिन

संदीप गोयल/एस.के.एम. न्यूज़ सर्विस

देहरादून। यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री व सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का जन्मदिन उत्तराखंड मे बड़ी धूमधाम से मनाया गया। जिसमें कार्यकर्ताओं के साथ ही पार्टी के बड़े नेता भी शामिल हुए। कार्यकर्ताओं ने केक काटकर अखिलेश यादव को जन्मदिन की बधाई दी और अखिलेश यादव की फोटो को केक खिलाया। सपा कार्यकर्ताओं ने अखिलेश यादव के लंबे एवं स्वस्थ जीवन की कामना की।

इस अवसर पर समाजवादी पार्टी उत्तराखण्ड के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सत्यनारायण सचान ने कहा की अखिलेश यादव एक भारतीय राजनीतिज्ञ हैं जो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। इससे पूर्व वे लगातार तीन बार सांसद भी रह चुके हैं। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव के पुत्र अखिलेश ने 2012 के उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में अपनी पार्टी का नेतृत्व किया। उनकी पार्टी को राज्य में स्पष्ट बहुमत मिलने के बाद, 15 मार्च 2012 को उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्य मन्त्री पद की शपथ ग्रहण किया था। अखिलेश यादव का जन्म 1 जुलाई 1973 को इटावा जिले के सैफई गाँव में समाजवादी पार्टी के नेता मुलायम सिंह यादव की पहली पत्नी मालती देवी के यहाँ हुआ। अखिलेश ने मई 2009 के लोकसभा उप-चुनाव में फिरोजाबाद सीट से अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी एसपीएस बघेल को 67,301 मतों से हराकर सफलता प्राप्त की। इसके अतिरिक्त वे कन्नौज से भी जीते। बाद में उन्होंने फिरोजाबाद सीट से त्यागपत्र दे दिया और कन्नौज सीट अपने पास रखी।

No Comments

Leave a Reply

*

*