Breaking news
  • 4 माह में एसएसपी ने किया नशे की तस्करी करने वालो के नेटवर्क को ध्वस्त
  • युवतियों ने किया दून पुलिस का आभार प्रकट
  • खुर्दबुर्द की जा रही नगर निगम की सरकारी भूमि: लालचन्द शर्मा
  • महिला आरक्षी ने रक्तदान कर बचाई गर्भवती महिला की जान
  • महिलाओं के लिए किया जागरूकता कार्यक्रम आयोजित
  • नशे की लत से युवा पीढ़ी हो रही बर्बाद : धस्माना
  • कांग्रेस ने किया भाजपा सरकार का पुतला दहन
  • 19 दिसंबर से होगा तीन दिवसीय एफीनिटी महोत्सव का आयोजन : अरुण 
Todays Date
11 December 2019

विकास की नई परिभाषा लिखेगा चारधाम श्राइन बोर्ड : डॉ भसीन

फोटोः डीडी 12

कैप्शन : भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी डॉ देवेंद्र भसीन।

विकास की नई परिभाषा लिखेगा चारधाम श्राइन बोर्ड : डॉ भसीन

संदीप गोयल/एस.के.एम. न्यूज़ सर्विस

देहरादून, 30 नवम्बर। चार धाम श्राइन बोर्ड के गठन को भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी डॉ देवेंद्र भसीन ने ऐतिहासिक निर्णय बताते हुए कहा कि इससे पुरोहित समाज के हक़ हकूकों को यथावत रखने के साथ चारधाम व मंदिरों का  विकास होगा और चार धाम में विभिन्न कार्य करने वालों की आय बढ़ने के साथ रोज़गार के नए अवसरों में भी उल्लेखनीय वृद्धि होगी । उन्होंने कांग्रेस द्वारा आलोचना किए जाने की निंदा की।भाजपा प्रदेश मीडिया प्रमुख डॉ देवेंद्र भसीन ने कहा कि विश्व विख्यात श्री माता वैष्णव देवी श्राइन बोर्ड व श्री तिरुपति बाला श्राइन बोर्ड आदि द्वारा किए जा रहे शानदार कार्यों की तर्ज़ पर उत्तराखंड में चार धाम श्राइन बोर्ड गठन का निर्णय मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के नेतृत्व में प्रदेश सरकार का महत्वपूर्ण फ़ैसला है जो स्वागत योग्य है। उन्होंने कहा कि इस नई व्यवस्था में जहाँ एक और पुरोहित समाज के हक़ हकूक सुरक्षित रखे गए हैं वहीं पूजा पद्धति व अन्य परम्पराओं में भी सरकार कोई बदलाव व हस्तक्षेप करने वाली नहीं है। दूसरी ओर इस बोर्ड के गठन से चारधाम व इससे जोड़े गए 51 मंदिरो का बड़े स्तर पर विकास होगा। यह विकास अवस्थापना से लेकर तीर्थ यात्रियों की सुविधाओं से जुड़ा होगा और इन क्षेत्रों को भी विकसित किया जाएगा। इसका लाभ बड़े स्तर पर स्थानीय लोगों को भी मिलेगा। जो लोग मंदिरों व यात्रा से जुड़े व्यवसाय करते हैं उनके काम में कई गुना वृद्धि होने के साथ रोज़गार के नए नए अवसर पैदा होंगे। डॉ भसीन ने कहा कि चारधाम आने वाले यात्रियों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इस वर्ष तीस लाख यात्री चार धाम आए और यह संख्या सन 2030 तक एक करोड़ पहुँच जाने की सम्भावना है। इतने यात्रियों के लिए बड़े स्तर पर प्रबंध करने होंगे और यह कार्य बोर्ड के माध्यम से सम्पन्न कराया जाएगा जिसके अध्यक्ष स्वयं मुख्यमंत्री होंगे। यह बोर्ड  विकास की नई परिभाषा लिखेगा। उन्होंने इस मामले पर कांग्रेस के विरोध की आलोचना करते हुए कहा कि कांग्रेस का चरित्र ही विकास विरोधी है। प्रदेश में विकास कार्यों का विरोध करना कांग्रेस की आदत बन गई है। आपदा के बाद जब श्री केदार नाथ धाम में प्रधानमंत्री जी के आशीर्वाद से विकास कार्य प्रारम्भ हुए उस समय कांग्रेस नेताओं ने विरोध के साथ जो नाटक किया वह उत्तराखंड व देश की जनता को याद है। लेकिन हमने विकास किया और यह कार्य जारी है । इससे जो श्री केदार नाथ धाम का जो नया रूप उभर कर आया है उसकी देश विदेश में सर्वत्र प्रशंसा हो रही है।

No Comments

Leave a Reply

*

*

error: Content is protected !!