Breaking news
  • उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने उपराष्ट्रपति भवन में किए दीप प्रज्ज्वलित
  • 1 जनवरी के बाद बाहर से जनपद में आये लोगों की सूची तैयार करने के निर्देश
  • जिला प्रशासन को प्रदान की सहायता धनराशि
  • सूबे के पर्यटन मंत्री ने ली समीक्षा बैठक
  • आमजन के सहायोग से ही रुकेगा कोरोना वायरस कोविड-19 : जिलाधिकारी
  • दिहाड़ी मज़दूरी करने वाले लोगो के लिए लंगर की सेवा
  • थर्मल टेंपरेचर डिवाइस से स्क्रीनिंग कर रही रायवाला पुलिस
  • जनपद की सीमा में प्रवेश करने वाले सभी वाहनों को चेक करने के निर्देश
Todays Date
6 April 2020

सीटू ने अर्पित की शहीदों को श्रद्धांजलि

फोटोः डीडी 6
सीटू ने अर्पित की शहीदों को श्रद्धांजलि
संदीप गोयल/एस.के.एम. न्यूज़ सर्विस
देहरादून। सीटू जिला कमेटी देहरादून ने आज शहीद दिवस पर राजगुरु, सुखदेव, भगत सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की। सीटू जिला कमेटी देहरादून ने अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम विचार गोष्ठी को कोरोना के संक्रमण को देखते रद्द कर दिया। इस अवसर पर सीटू के जिला महामन्त्री लेखराज ने शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करते कहा कि सीटू हमेशा भगत सिंह की विचारधारा को लेकर मजदूरों के बीच में कार्य करते हुए उन्हें संगठित करती है एवम् मजदूरों के शोषण के खिलाफ संघर्षरत है। उन्होंने कहा कि शहीद भगत सिंह भारत में अंग्रेजो से आजादी दिला कर मजदूर वर्ग की सत्ता स्थापित करना चाहते थे वे ऐसे समाज की स्थापना करना चाहते थे जहाँ आदमी द्वारा आदमी का शोषण न हो अर्थात शोषण विहीन समाज की स्थापना करना चाहते थे। सही मायने में मजदूर वर्ग की स्थापना करना ही भगत सिंह का सपना था और इस सपने को पूरा करने के लिए ही सीटू मजदूर वर्ग को संगठित कर मजदूरों में राजनीतिक चेतना को आगे बढ़ाने का कार्य कर वर्ग संघर्ष की भावना को मजबूत करने का कार्य कर रही है और शोषण विहीन समाज की स्थापना कर शहीद भगत सिंह के सपने को साकार करेंगे। उन्होंने कहा कि भगत सिंह जातीय भेद भाव को गलत मानते ही नही थे वे जातीय व्यवस्था को ही जड़ से समाप्त कर जातीय उत्पीड़न के खिलाफ भी संघर्ष करते थे वे साम्प्रदायिकता के घोर विरोधी थे। आज मजदूरो को संगठित करना उनमे समाजवादी समाज की स्थापना करने के विचार को स्थापित करना ही शहीद भगत सिंह को सच्ची श्रधांजलि होगी।

No Comments

Leave a Reply

*

*

error: Content is protected !!