Breaking news
  • मौत पर भी राजनीति कर रही कांग्रेस : भसीन
  • भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने दी स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएँ
  • भारत सरकार से प्राप्त होगी 10 करोड़ रूपये सब्सिडी
  • स्वतंत्रता दिवस के पावन अवसर पर सादगी से होगा ध्वजारोहण कार्यक्रम
  • उत्तरांचल पंजाबी महासभा ने किया शहीदों को याद
  • कैबिनेट निर्णय : देहरादून में होगा उत्‍तराखंड विधानसभा सत्र
  • सनप्रो़ मोबाइल एप के लॉन्च की घोषणा
  • गजेंद्र बिष्ट को किया गढ़वाल मंडल महासचिव पद पर तैनात
Todays Date
15 August 2020

पीएचएमएस संवर्ग के पीजी डॉक्टरों को पूर्ण वेतन दे सरकार :  नैथानी

फोटोः डीडी 1

कैप्शन : कांग्रेस नेता एवं पूर्व मंत्री, मंत्री प्रसाद नैथानी।

प्रदेश में डॉक्टरों की नितांत कमी : मंत्री प्रसाद

पीएचएमएस संवर्ग के पीजी डॉक्टरों को पूर्ण वेतन दे सरकार :  नैथानी

संदीप गोयल/एस.के.एम. न्यूज़ सर्विस

देहरादून। कांग्रेस नेता एवं पूर्व मंत्री, मंत्री प्रसाद नैथानी ने मीडिया कर्मियों से वार्ता करते हुये कहा की हमारे प्रदेश में डॉक्टरों की नितांत कमी है जिसके कारण कॉरोना महामारी जैसे वैश्विक बीमारी से निजात पाने के लिए डॉक्टरों की भर्ती की जानी आवश्यक है। प्रदेश के मेडिकल कॉलेजों में विभिन्न बीमारियों के स्पेशलिस्ट डॉक्टरों का नितांत अभाव है। इसके लिए मेडिकल कॉलेजों में पीएमएचएस संवर्ग के पीजी डॉक्टरों के लिए मात्र 80 सीटें हैं। उन्होंने बताया कि पीजी करने वाले डॉक्टरों को देश के अन्य राज्यों में लगभग 80 हजार रुपए वेतन दिया जाता है। किन्तु उत्तराखंड में पहले 80 हजार वेतन मिलता था किन्तु वर्तमान सरकार मात्र 40 हजार रुपए पीएचएमएम संवर्ग के पीजी डॉक्टरों को वेतन दे रही है। जो कि डाक्टरों के साथ अन्याय है। पूर्व मंत्री ने कहा कि वर्तमान मुख्यमंत्री  त्रिवेंद्र सिंह रावत  जिनके पास स्वास्थ्य विभाग भी है ने 6 जनवरी 2020 को स्वास्थ्य विभाग के एक सम्मेलन में घोषणा की थी कि सभी पीजी डॉक्टरों को पूरा वेतन 80 हजार दिया जाएगा। किन्तु 6 माह पूर्ण होने के बावजूद भी अभी तक मुख्यमंत्री ने अपनी घोषणा पर अमल नहीं किया है, जो खेद जनक है। इससे पीजी डॉक्टरों का मनोबल गिरा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस मुख्यमंत्री से मांग करती है कि वह अपनी घोषणा को तत्काल पूरा करे।

No Comments

Leave a Reply

*

*