Breaking news
  • उपच्छाया ग्रहण वास्तव में नही होता चंद्रग्रहण : डॉक्टर आचार्य सुशांत राज
  • पवित्र नदियों के घाटों पर स्नान करने की अनुमति नहीं
  • नेशनलिस्ट यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स जनपद हरिद्वार इकाई की बैठक आयोजित
  • सुरेश भट्ट भाजपा उत्तराखंड के प्रदेश महामंत्री नियुक्त
  • पुलिस उपमहानिरीक्षक ने की समीक्षा
  • जनपदों को शीघ्र अतिशीघ्र डिजिटाइज्ड करने के निर्देश
  • उत्तराखण्ड नागरिक उड्डयन विकास प्राधिकरण के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर की छटवीं बैठक आयोजित
  • स्मार्ट सिटी परियोजना की उच्च स्तरीय संचालन समिति बैठक सम्पन्न
Todays Date
28 November 2020

उच्चाधिकार प्राप्त समिति की बैठक सम्पन्न

फोटोः डीडी 12

कैप्शन : समिति की बैठक लेते मुख्य सचिव श्री ओमप्रकाश।

उच्चाधिकार प्राप्त समिति की बैठक सम्पन्न

संदीप गोयल/एस.के.एम. न्यूज़ सर्विस

देहरादून। मुख्य सचिव श्री ओमप्रकाश की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री सीमा क्षेत्र विकास योजना के सम्बन्ध में उच्चाधिकार प्राप्त समिति की बैठक सम्पन्न हुयी। बैठक के दौरान सम्पर्क मार्ग, पुल निर्माण, लघु उद्यमों एवं ग्रोथ सेंटर्स हेतु मशीनों की स्थापना, क्लस्टर के आधार पर कृषि आदान प्रदान यंत्र वितरण, स्मार्ट क्लासेज, कोल्ड स्टोरेज एवं पॉलीहाउस निर्माण जैसी विभिन्न प्रस्तावों को स्वीकृति दी गयी मुख्य सचिव ने कहा कि मुख्यमंत्री सीमान्त क्षेत्र विकास योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के 05 जनपदों के 09 सीमान्त विकासखण्डों में रह रहे परिवारों को मूलभूत सुविधाओं के साथ ही आजीविका एवं स्वरोजगार के बेहतर संसाधन उपलब्ध कराना है। इस योजना के तहत 10 से 50 किमी पर अवस्थित गावों को आच्छादित किया जायेगा। उन्होंने कहा कि सीमान्त क्षेत्रों से पलायन रोकना एवं रिवर्स पलायन को बढ़ावा देने के लिए इसमें ऐसी योजनाओं को शामिल किया जाए, जिनसे इन क्षेत्रों में रह रहे लोगों को  अधिकतम रोजगार उपलब्ध हो सके। मुख्य सचिव ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस योजना के माध्यम से आजीविका पर अधिक फोकस किया जाए। उन्होंने कहा कि कौशल विकास प्रशिक्षण, ग्रोथ सेंटर्स, फार्म मशीनरी बैंक, स्वयं सहायता समूहों आदि के विकास पर भी फोकस किया जाना चाहिए। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव श्रीमती मनीषा पंवार, सचिव श्री आर.के. सुधांशु एवं श्रीमती सौजन्या भी उपस्थित थीं।

No Comments

Leave a Reply

*

*