Breaking news
  • जनपद को शत् प्रतिशत् साक्षर बनाने के निर्देश
  • आढ़त बाजार की यातायात व्यवस्था को लेकर बैठक का आयाेजन 
  • जनपद टास्कफोर्स समिति की बैठक आयोजित
  • महाकुम्भ मेले में यातायात प्रबन्धन को लेकर डीजीपी ने ली बैठक
  • उत्तराखण्ड में भी किया गया कोविड-19 वैक्सीन के टीकाकरण का पूर्वाभ्यास
  • प्रदेश की समृद्धि व खुशहाली एक मात्र लक्ष्य : प्रीतम सिंह
  • बोलेरो मैक्स गहरी खाई मे गिरी, एक की मौत
  • मसूरी विधानसभा क्षेत्र में हुआ दो करोड़ 21 लाख के विकास कार्यो का लोकार्पण
Todays Date
16 May 2021

जिलाधिकारी की अध्यक्षता में चयन समिति की बैठक आयोजित

फोटोः डीडी 7

कैप्शन : चयन समिति की बैठक लेते जिलाधिकारी हरिद्वार सी रविशंकर।

जिलाधिकारी की अध्यक्षता में चयन समिति की बैठक आयोजित

भगवती प्रसाद गोयल/एस.के.एम. न्यूज़ सर्विस

हरिद्वार। जिलाधिकारी हरिद्वार सी रविशंकर  की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट में वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली योजनान्तर्गत ऋण हेतु आवेदन पत्रों के चयन हेतु चयन समिति की एक बैठक आयोजित हुई। बैठक में जिलाधिकारी को अधिकारियों द्वारा बताया गया कि सभी आवेदन वाहनों के लिये ऋण चाहने वालों के हैं। जिलाधिकारी ने सर्वप्रथम श्री नीरज कुमार, निवासी-रूड़की से पूछा कि आप क्या खरीदने के लिये ऋण लेना चाहते हैं, इस पर श्री नीरज ने बताया कि मैं 30 सीटर बस खरीदना चाहता हूं, जिसे मैं रोडवेज में अनुबन्ध के तहत लगाऊंगा। जिलाधिकारी ने श्री नीरज से बस की वर्तमान कीमत, ऋण के किश्तों की किस प्रकार अदायगी करेंगे, स्थायी निवास, आय प्रमाण पत्र, ड्राईविंग लाइसेंस, सब्सिडी कितनी मिलेगी आदि के बारे में विस्तृत जानकारी ली। अधिकारियों ने जिलाधिकारी को बताया कि इन्हें बैंक ऋण देने के लिये सहमत है। इसके पश्चात जिलाधिकारी ने लाभार्थी श्री उमरदराज से जानकारी ली कि आप वर्तमान में क्या कर रहे हैं। श्री उमरदराज ने बताया कि मैं वर्तमान में किसी और की गाड़ी-डिजायर चला रहा हूं तथा छह-सात हजार कमा लेता हूं। जिलाधिकारी ने कहा कि किश्त चुकाने में कोई दिक्कत तो नहीं आयेगी, इस पर श्री उमरदराज ने कहा कि नहीं मैं किश्त आराम से अदा कर दूंगा। अधिकारियों ने जिलाधिकारी को बताया कि ऋण देने के लिये बैंक की सहमति प्राप्त हो गयी है। श्री उमरदराज के पश्चात जिलाधिकारी ने तीसरे लाभार्थी श्री संदीप कुमार से पूछा कि आप वर्तमान में क्या कर रहे हैं। इस पर श्री सन्दीप ने बताया कि वह बेरोजगार हैं तथा अपना स्वरोजगार करना चाहते हैं तथा टाटा की 52 सीटर बस लेना चाहते हैं, जिस पर 25 प्रतिशत की सब्सिडी है। उन्होंने बताया कि मार्जिन मनी की वजह से उत्तराखण्ड ग्रामीण बैंक, रूड़की से सैद्धान्तिक सहमति नहीं बन पाई है। इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि किसी अन्य बैंक से बातचीत करिये या उसी बैंक से अपने आवेदन की सम्परीक्षा कराकर ऋण प्राप्त कर सकते हैं। श्री सन्दीप कुमार के पश्चात जिलाधिकारी ने आवेदनकर्ता श्री ललित कुमार से उनके सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की। श्री ललित कुमार ने बताया कि वह वर्तमान में कुछ नहीं कर रहे हैं। वे टाटा की इण्डिको लेना चाहते हैं, जिसके लिये उनके चाचा, जो ट्रवल एजेंसी चला रहे हैं, गाइड कर रहे हैं तथा बैंक ने ऋण देने की सहमति प्रदान की है। जिलाधिकारी ने श्री ललित कुमार के पश्चात श्री मनोज कुमार, लक्सर रोड, पंचमखेड़ी से जानकारी हांसिल की। जिस पर श्री मनोज कुमार ने बताया कि वह वर्तमान में गन्ना व गेहूं की खेती कर रहे हैं, जिसे वह सहकारी समिति में बेचते हैं। उन्होंने बताया कि वह टेम्पो ट्रवलर लेना चाहते हैं तथा उत्तराखण्ड ग्रामीण बैंक ऋण देने के लिये सहमत है। इस प्रकार जिलाधिकारी ने पांच लाभार्थियों से विस्तृत जानकारी ली तथा  एक लाभार्थी अनुपस्थित था। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि हमारा उद्देश्य पात्र व्यक्तियों को स्वरोजगार के लिये प्रोत्साहित करना है। वह अपने साथ ही अन्य लोगों को भी रोजगार प्रदान करता है। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे प्रचार-प्रसार के माध्यम से सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं की जानकारी अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचायें। बैठक में पर्यटन, परिवहन, बैंक के अधिकारी सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण तथा लाभार्थी उपस्थित थे।

No Comments

Leave a Reply

*

*